ओडिशा मुख्यमंत्री कारीगर सहायता योजना : Odisha Mukhyamantri Karigar Sahayata Yojana

हमें शेयर करें

ओडिशा सरकार ने राज्य के सभी कारीगरों के लिए मुख्यमंत्री कारीगर सहायता योजना शुरू की है। ओडिशा के मुख्यमंत्री श्री नवीन पटनायक ने 6 मार्च 2019 को इस योजना की घोषणा की थी। इस योजना के तहत राज्य सरकार अपनी पात्रता के अनुसार कारीगरों को मासिक भत्ते के रूप में 800 से 1,000 रुपये प्रदान करेगी। मुख्यमंत्री कारीगर सहायता योजना पंजीकरण और आवेदन पत्र जल्द ही चयन समिति द्वारा जिला स्तर पर घोषित किया जाएगा। मुख्यमंत्री कारीगर सहायता योजना ओडिशा सरकार की एक बहुत ही अच्छी पहल है। इससे पहले किसी भी राज्य सरकार ने शिल्पकार एवं मूर्तिकारों के लिए कोई मासिक पेंशन योजना शुरू नहीं की है।

राज्य सरकार ने मूर्तिकारों की आजीविका में सुधार के लिए मुख्यमंत्री कारीगर सहायता योजना शुरू करने जा रही है। ओडिशा कारीगर सहायता योजना के सफल कार्यान्वयन के लिए, हस्तशिल्प विभाग नोडल विभाग के रूप में कार्य करेगा। मुख्यमंत्री कारीगर सहायता योजना का उद्देश्य मासिक आधार पर वित्तीय सहायता प्रदान करके शिल्पकार या मूर्तिकारों का मनोबल बढ़ाना है।

मुख्यमंत्री कारीगर सहायता योजना :

जैसे कि हमने आपको ऊपर बताया कि ओडिशा सरकार ने राज्य के सभी शिल्पकार एवं मूर्तिकारों के लिए मुख्यमंत्री कारीगर सहायता योजना शुरू की है। इस योजना की घोषणा ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक जी ने 6 मार्च 2019 को की है। ओडिशा हस्तशिल्प निदेशालय द्वारा शुरू की गयी इस योजना का उद्देश्य राज्य के कारीगरों को मासिक आधार पर वित्तीय भत्ता प्रदान करना है।

10 वर्ष से अधिक और 1 लाख से कम वार्षिक आय वाले शिल्पकारों को प्रति माह 800 रुपये और 80 वर्ष से अधिक के वरिष्ठ मूर्तिकारों को मासिक भत्ते के रूप में 1,000 रुपये मिलेंगे। इस योजना का लाभ लेने के लिए आपको कारीगर सहायता योजना आवेदन पत्र भरना होगा।

मुख्यमंत्री कारीगर सहायता योजना का मुख्य उद्देश्य :

  • मुख्यमंत्री कारीगर सहायता योजना का मुख्य उद्देश्य मासिक आधार पर वित्तीय सहायता प्रदान करके शिल्पकार या मूर्तिकारों के मनोबल बढ़ाना है।

मुख्यमंत्री कारीगर सहायता योजना के लाभ :

  • इस योजना का लाभ लेने के लिए आवेदक ओडिशा राज्य का स्थायी निवासी होना चाहिए।
  • आवेदक शिल्पकार होना चाहिए।
  • दूसरे राज्यों के नागरिक इस योजना के तहत लाभ प्राप्त नहीं कर पाएंगे।
  • इस योजना से कारीगरों की आय में वढोतरी होगी।
  • इस योजना का लाभ उन शिल्पकारों को मिलेगा जिनकी वार्षिक आय 1 लाख़ रुपये से कम है।
  • इस योजना से शिल्पकारों की आर्थिक दशा में सुधार होगा।
  • इस योजना के तहत लाभ प्राप्त करने के लिए व्यक्ति के पास न्यूनतम 10 वर्ष का अनुभव होना चाहिए।
  • इस योजना के तहत 80 वर्ष से अधिक आयु के वरिष्ठ मूर्तिकारों को महीने में राज्य सरकार दवारा 1000/- रुपये दिए जाएगें।
  • जो शिल्पकार जिनकी आयु 80 वर्ष से कम है उन्हें मासिक आधार पर 800 रुपये मिलेंगे।
  • राज्य सरकार एक समिति का गठन करेगी, जिसके तहत वो लाभार्थियों के उचित चयन के लिए काम किया जाएगा। यह हस्तशिल्प निदेशालय का कार्य होगा जो योजना के उचित कार्यान्वयन के लिए काम करेगा।
  • इस योजना के तहत लाभार्थियों के चयन के बाद, इस प्रक्रिया का कार्यभार खंड विकास अधिकारियों द्वारा किया जाएगा जो राज्य के कारीगरों को वित्तीय सहायता प्रदान करने के लिए जिम्मेदार होंगे।

ओडिशा मुख्मंत्री कारीगर सहायता योजना पात्रता मापदंड :

  • ओडिशा के स्थायी निवासियों के लिए ही लागू है।
  • सभी शिल्पकार जिन्होंने कम से कम 10 वर्षों तक काम किया है, वे मुख्मंत्री कारीगर सहायता योजना के लिए पात्र हैं।

मुख्यमंत्री कारीगर सहायता योजना के लिए जरुरी दस्तावेज :

  • बैंक खाता
  • आय प्रमाण पत्र
  • आईडी प्रमाण पत्र
  • आधार कार्ड
  • स्थायी प्रमाण पत्र
हमें शेयर करें

संबंधित

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.